Subscribe Support our Abhiyaan

Gender-NewsFeatures-hin22 Videos

भाग 2: मुज़फ्फरनगर दंगे के पांच साल बाद

फिरदौस, खुर्शीदा और वसीम ने सितम्बर 2013 में मुज़फ्फरनगर और शामली के दंगों में सब कुछ खो दिया था। पिछले पांच साल में उन्होंने अपनी दुनिया फिर से बसाई। कैसे? जानिए इस वीडियो में। चलचित्र अभियान की एक रिपोर्ट। टीम: अमूल्य आफ़ले, अरूणा, मोहम्मद शाक़िब रंगरेज़, विशाल कुमार

चुनाव 2019 ट्रेलर

चुनाव का समय आ गया है और चलचित्र अभियान इसके पूरी तरह से तैयार है। यह हमारा संकल्प है की इस बार का चुनाव फेक न्यूज़ और झूठे वादों की जगह लोगों के मुद्दों पर लड़ा और जीता जाये। इसलिए, अगले एक महीने में हम उत्तर प्रदेश के अन्य क्षेत्रों में जायेंगे और धरातल से […]

मुज़फ्फ़रनगर ज़िले में फिर दंगा भड़काने की कोशिश

मुज़फ्फ़रनगर ज़िले के बुढाना कसबे में 2013 की तरह फिर से लड़कियों के साथ छेड़-छाड़ के मामले को साम्प्र्दायक रूप दिया गया | भाजपा के स्थानिय विधायक, उमेश मालिक ने दिया भड़काऊ भाषण | पत्थरबाज़ी में पुलिस के साथ नज़र आए हिन्दू युवा वाहिनी के लोग | इलाक़े के कई मुसलमान हुए गिरफ़्तार | चलचित्र […]

भोजन माताओं ने कहा उचित वेतन नहीं तो सरकार भी नहीं

मिड डे मील में खाना बनाने वाली महिलाओं को भजन माता बोला जाता है। सरकारी स्कूलों में भोजन माताओं को कॉन्ट्रैक्ट पर रखा जाता है और उन्हें 1000 रूपए वेतन मिलता है। इतने कम वेतन से भोजन माताएं बहुत नाराज हैं। इसके अलावा इन भोजन माताओं को कहीं और काम करने की अनुमति नहीं है, […]

आज़ादी कूच पहला दिन – ऊँझा गाँव

टीम: नकुल सिंह साहनी, अभिषेक इंद्रेकर। सरकार के दमन और मेहसाणा में यात्रियों के पुलिस डिटेंशन के बावजूद आज़ादी कूच यात्रा आगे बढ़ती रही और 12.07.2017 की देर शाम को ऊँझा गाँव पहुँची। जिग्नेश मेवानी के ओनंझा के भाषण का छोटा सा अंश।

‘यहाँ किसी को मोदी सरकार वापिस नहीं चाहिए’ बोले मथुरा के दलित

चलचित्र अभियान के साथ एक लम्बी चर्चा में, मथुरा के खानपुर गाँव के दलित महिलाओं और आदमियों ने कहा कि वो मोदी सरकार के झूठों से परेशान हैं, और वो इस बार इस सरकार को गिराने वाले हैं। टीम- नकुल सिंह साहनी, सूरज दीप, आर्यन माहटा

आज़ादी कूच दूसरा दिन

टीम: नकुल सिंह साहनी, अभिषेक इंद्रेकर आज़ादी कूच यात्रा दूसरे दिन सिद्धपुर गाँव पहुँची। इस वीडियो में जन सभा के कुछ अंश।

युवा शक्ति पहुंचाएगी कन्हैया को संसद तक

बेगुसराई चुनाव को कवर करती वीडियो सीरीज की इस वीडियो में चलचित्र अभियान की टीम ने बेगुसराई के भूमिहार समाज के युवाओं और बुज़ुर्गों से पिछली सरकार की नीतिओं के बारे में बात की और कन्हैया की राजनीती के प्रति उनके विचार जानने की कोशिश की। हमें इस बातचीत से यह पता चला कि बेगुसराई […]

लोग भीम सेना के बारे में सोचते हैं 1

टीम: नकुल सिंह साहनी, पृथ्वीर सोलंकी जबकि उत्तर प्रदेश सरकार, प्रशासन और स्थानीय मीडिया भीम सेना को नक्सली संगठन के रूप में पेश करने के लिए बाहर निकल रहे हैं, चलचित्र अभियान आप लोगों की आवाज में वे जो काम करते हैं संगठन की असली कहानी लाता है।

“40 महीने से नहीं मिला है वेतन”

चलचित्र अभियान की टीम ने गोरखपुर के मदरसा शिक्षकों से बातचीत की। इस बातचीत में शिक्षकों ने बताया कि पिछले 40 महीनों से केंद्र सरकार ने उन्हें उनका वेतन नहीं दिया है और वह राज्य सरकार से मिलने वाले 3000 रुपयों पर निर्भर हैं जिसके चलते उन्हें आर्थिक रूप से बहुत परेशानी हो रही है। […]