Subscribe

Gender-NewsFeatures-hin28 Videos

बिहार के दरभंगा का पुस्तकालय आंदोलन

इस इंटर्व्यू में हम कॉलेज की छात्रा सादिया शेख से बात करते हैं, जिन्होंने बिहार के दरभंगा जिले में अपने गाँव में एक पुस्तकालय शुरू किया है। यह कई अन्य पुस्तकालयों का हिस्सा है जिन्हें वे कई अन्य गांवों में खोलने की योजना बना रहे हैं। इस तरह की छोटी पहल ने इस बिहार चुनाव […]

क्यों यूपी में महिलाओं तक स्वास्थ्य सेवाएं नहीं पहुंची

भारत में अधिकांश लोगों के पास कार्यात्मक स्वास्थ्य सेवा नहीं है। उत्तर प्रदेश राज्य (यूपी) में भारत में सबसे खराब स्वास्थ्य देखभाल और मानव विकास सूचकांक (एचडीआई) संकेतक हैं। इस वीडियो में, चलचित्र अभियान यूपी में उन्नाव जिले में राजकीय महिला चिकित्सालय को देखता है। स्वास्थ्य केंद्र पूरी तरह से जर्जर है। दीवारें गिर रही […]

‘युवा जात-धर्म नहीं रोज़गार पूछे’ मनोज मंजिल

बिहार के भोजूपुर जिले में अगिआंव विधान सभा क्षेत्र से महागठबंधन के सीपीआई (एमएल) के उम्मीदवार, मनोज मंजिल का चलचित्र अभियान के साथ इंटरव्यू। उनके चुनाव प्रचार में हम उनके साथ घूमे और इस चुनाव में उठाए जाने वाले विभिन्न मुद्दों के बारे में उनसे बात की। वह कहते हैं कि युवा इस चुनाव में […]

40 FIR के बाद भी नहीं हटी देवबंद की महिलाएँ

उत्तर प्रदेश के सहारनपुर ज़िले की देवबंद की महिलाएँ पिछले 42 दिनों से CAA-NRC-NPR के ख़िलाफ़ विरोध प्रदर्शन पर बैठी हैं। बेहद दबाव के बावज़ूद यह महिलाएँ डटी हुई हैं और आज भी उनका सत्याग्रह जारी है। अब पुलिस ने विरोध करती कुछ महिलाओं के रिश्तेदारों के ऊपर 40 FIR दर्ज कर दी है। महिलाओं […]

देवबंद की महिलाओं ने बनाया अपना शाहीन बाग़

27 जनवरी, 2020 से देवबंद की महिलाओं ने अपने क़स्बे में NRC, NPR और CAA के ख़िलाफ़ एक विरोध प्रदर्शन शुरू किया। शाहीन बाग़ की तरह यहाँ भी महीलाएँ 24 घंटे विरोध प्रदर्शन पर बैठती हैं । जब शहर के जाने-माने राजनैतिक और धार्मिक हस्तियाँ इन्हें बोलने आए कि वो अपना धरना बंद कर दें […]

चलचित्र अभियान- अभी तक का सफ़र

चलचित्र अभियान का ख़याल 2013 के दंगों के बाद आया था जब हमें यह एहसास हुआ कि कैसे सोशल मीडिया (और मुख्य धारा की मीडिया के कुछ अंश भी) दंगे भड़काने और माहौल ख़राब करने के लिए इस्तेमाल किया जा रहा था।पश्चिम उत्तर प्रदेश के कई लोगों को एक वैकल्पिक मीडिया की ज़रूरत महसूस हुई […]

ठेका प्रथा के ख़िलाफ़ दलितों का महा आंदोलन

उत्तर प्रदेश के 27 जिलों में सफ़ाई कर्मियों के र्काय के निजीकरण के खिलाफ़ 12 जुलाई, 2019 को मेरठ में विशाल विरोध प्रदर्शन हुआ | विरोध प्रदर्शन में कई दलित संगठनों ने हिस्सा लिया | चलचित्र अभियान की एक रिपोर्ट | टीम – नकुल सिंह साहनी, राहुल शेरवाल, विशाल कुमार

310 सफ़ाई कर्मियों के 48 लाख रुपये लेकर ग़ायब कम्पनी

यू.पी के मुज़फ़्फ़रनगर ज़िले के 310 सफ़ाई कर्मचारियों को ठेके पर एक कम्पनी ने काम पर रखा था। कर्मचारियों को पिछले 2 से 3 महीनें की तनखाएँ नहीं मिली थी और कम्पनी के प्रतिनिधि ग़ायब हो गए। कर्मचारी मुख्य रूप से दलित महिलाएँ हैं। वह पिछले कई दिनों से विरोध प्रदर्शन कर रही हैं लेकिन […]

14 साल की दलित मज़दूर लड़की की जलकर हुई मृत्यु

24 मई 2019 को मुज़फ्फरनगर ज़िले के एक ईंट भट्टे में 14 साल की दलित लड़की की जलकर मृत्यु हुई। जहाँ एक तरफ ईंट भट्टा मालिक और आसपास रहने वाले मज़दूरों का कहना है की लड़की की मौत रात में उसके कमरे में आग लगने से हुई, लड़की के परिवार का आरोप है की लड़की […]

मोदी के गोद लिए गाँव का सच

2014 लोक सभा चुनाव में वाराणसी से सांसद बनने के बाद नरेंद्र मोदी ने 4 गाँव गोद लिए थे जिनको उन्होंने आदर्श गाँव बनाने की बात की थी। नागेपुर इन 4 गाँवों में से एक है। चलचित्र अभियान की टीम नागेपुर पहुंची पर वहाँ विकास केवल एक खोखला शब्द नज़र आया। टीम – आर्यन माटा, […]