Subscribe Support our Abhiyaan

Gender-Lives-hin8 Videos

शब्बीरपुर भूख हड़ताल फेसबुक लाइव

टीम: नकुल सिंह साहनी, पीयूष नागपाल, विशाल कुमार शब्बीरपुर में दलित समाज भीम आर्मी के संस्थापक, चंद्रशेखर आज़ाद ‘रावण’ और गांव के दो और दलितों पर लगी रासुका के खिलाफ़ भूख हड़ताल पर बैठा है। शब्बीरपुर से फेसबुक लाइव।

चलचित्र अभियान के लिए जन समर्थन

चलचित्र अभियान की मदद करने के लिए इस लिंक पर क्लिक करें- contribute.crowdnewsing.com/fundraiser/CCA चलचित्र अभियान पश्चिमी उत्तर प्रदेश, भारत आधारित फ़िल्म और मीडिया समूह है। इस समूह ने विभिन्न क़िस्म के वीडियो, मसलन दस्तावेज़ी फ़िल्में, समाचार फीचर, साक्षात्कार और लाइव ब्राडकॉस्ट बनाए हैं। हाशिए के समुदायों को प्रभावित करने वाले स्थानीय मुद्दे हम उन्हीं की […]

संजली को न्याय दो

संजली को न्याय की मांग करते हुए और महिलाओं पर बढ़ती हुई हिंसा के खिलाफ़ अफ़कार इंडिया फाउंडेशन, नौजवान भारत सभा और चलचित्र अभियान ने 23.12.2018 कांधला में विरोध प्रदर्शन किया।

चुनाव 2019 ट्रेलर

चुनाव का समय आ गया है और चलचित्र अभियान इसके पूरी तरह से तैयार है। यह हमारा संकल्प है की इस बार का चुनाव फेक न्यूज़ और झूठे वादों की जगह लोगों के मुद्दों पर लड़ा और जीता जाये। इसलिए, अगले एक महीने में हम उत्तर प्रदेश के अन्य क्षेत्रों में जायेंगे और धरातल से […]

भोजन माताओं ने कहा उचित वेतन नहीं तो सरकार भी नहीं

मिड डे मील में खाना बनाने वाली महिलाओं को भजन माता बोला जाता है। सरकारी स्कूलों में भोजन माताओं को कॉन्ट्रैक्ट पर रखा जाता है और उन्हें 1000 रूपए वेतन मिलता है। इतने कम वेतन से भोजन माताएं बहुत नाराज हैं। इसके अलावा इन भोजन माताओं को कहीं और काम करने की अनुमति नहीं है, […]

चलचित्र अभियान- अभी तक का सफ़र

चलचित्र अभियान का ख़याल 2013 के दंगों के बाद आया था जब हमें यह एहसास हुआ कि कैसे सोशल मीडिया (और मुख्य धारा की मीडिया के कुछ अंश भी) दंगे भड़काने और माहौल ख़राब करने के लिए इस्तेमाल किया जा रहा था।पश्चिम उत्तर प्रदेश के कई लोगों को एक वैकल्पिक मीडिया की ज़रूरत महसूस हुई […]

आज़ादी कूच यात्रा 2017 – फ़ेस्बुक लाइव्ज़

टीम: नकुल सिंह साहनी, अभिषेक इंद्रेकर जुलाई 2017 में गुजरात में 1 हफ़्ते लम्बी ‘आज़ादी कूच यात्रा’ का आयोजन हुआ। दलित लीडर जिग्नेश मेवानी ने यात्रा का नेतृत्व किया। यात्रा में मुख्य माँग थी कि दलितों को आवंटित ज़मीने जिन पर दबंग जातियों का क़ब्ज़ा है, वे उनको वापिस दिलायी जायँ। नीचे दिए गए फ़ेस्बुक लाइव्ज़ […]